भूतकाल की चीजो

भूतकाल की चीजो को देखना संभव कैसे past view possible

भूतकाल की चीजो को देखना संभव कैसे, 

 

भूतकाल की चीजो को हम देखने में संभव हो सकते है .कई वैज्ञानिक का मन्ना है की हम भूतकाल की चीजो को देख सकते है ,जैसे डाइनासुर ,हमारी प्रक्रति और पुराने युद्ध को हम देख सकते है , हम आज भी लाखो प्रकाश साल पहले की चीजे हम देख रहे है यानि भूतकाल की चीजो को देख रहे है .आपको आश्चर्य होगा की आप जो तारे आसमान में देख रहे है वह भूतकाल में है ,क्युकी तारे हमारे धरती से लाखो प्रकाश किलोमीटर दूर है ,जिससे की उनकी और से निकलने वाली रौशनी को हम लाखो साल बाद , आज हम अपनी धरती से देख रहे है . यह तक की हम जो तारे आज देख रहे है वह कई साल पहले से ख़तम हो चुके है लेकिन हम उन्हें आज तक देख रहे है ,क्युकी उनसे निकले वाला प्रकाश आज भी गति कर रहा है और हमारी आँखों तक पहुच रहा है. इसका सबसे सरल उदाहण यह है की
जब कोई तारे को वर्तमान में टूटते हुए देखते है ,तो वह तारा आज वर्तमान में नही बल्कि लाखो साल पहले टूट चूका है लेकिन उसकी रौशनी को हम तक पहुचने में देर लगती है . इसी सोच को कई वैज्ञानिक यह समझते है की हम भूतकाल की चीजो को देख सकते है. कई लोग यह मानते है की कुछ वैज्ञानिक ने ऐसी मशीन बना के तबाह कर दी है जो भूतकाल की चीजो को देख सके ,लेकिन उसका काम करने का तरीका आवाज से था ,कुछ लोग बोलते है की वैज्ञानिक ने आवाज की उर्जा जो कभी खतम नही होती ,उसका उपयोग कर के भूतकाल की चीजो को देखा है ,लेकिन यह साबित नही हुआ की उन्होंने ऐसा कुछ देख रखा है .
लेकिन भूतकाल की चीजो को देखने के लिए प्रकाश के सिन्धांत से मुमकिन है ,क्युकी तारे वाले उदाहरण से भूतकाल की चीजो को देखने की सम्भावना पूरी है. लेकिन इसमें कठिनाई बहुत है जैसे भूतकाल की चीजो को देखने के लिए हमे प्रथ्वी से लाखो प्रकाश किलोमीटर दूर जाना होगा . और जब हम वह से अपनी प्रथ्वी को देखेंगे तो वह से निकलने वाला प्रकाश हमे भूतकाल की चीजो को दिखायेगा ,
यदि हम पृथ्वी से जितना दूर जायेंगे उतनी ही भूतकाल की चीजो को देखने में संभव होंगे. इसका यह भी निष्कर्ष लगाते है की यदि कोई दूसरा गृह हमारे प्रथ्वी से लाखो प्रकाश किलोमीटर दूर है और वहा के रहवासी अगर हम पर नज़र रख रहे है तो उन्हें हमारी धरती पर अभी कुछ भी नज़र नही आ रहा होगा ,या वह हमारी भूतकाल की चीजो को देख रहे होंगे. समय में पीछे न जाने का कारण
आसान भाषा में जितना प्रथ्वी से दूर जा कर पृथ्वी को देखेंगे उतना भूतकाल की चीजो को हम देख सकते है .
भूतकाल की चीजो को देखने का उदाह्र्नीय चित्र

भूतकाल की चीजो
भूतकाल की चीजो